Muskan Shayari In Hindi | Muskan Shayari | Muskan Shayari 2 Lines.

Rate this post

 Muskan Shayari

Ada se muskura (Muskan) dena

Muskan Shayari


Hi se sar jhuka lena, ada se muskura (Muskan) dena.
Hasinon ko bhi aata hai, Bina badal bijli gira dena.

हाय से सर झुका लेना, अदा से मुस्कुरा (मुस्कान) देना।
हसीनों को भी आता है, बिना बादल बिजली गिरा देना।

 

 Har wakt muskurane ki aadat

Sapnon se dil lagane ki aadat nahi rahi.
Har wakt muskurane ki aadat nahi rahi.

सपनों से दिल लगाने कि आदत नहीं रही।
हर वंक्त़ मुस्कुराने की आदत नहीं रहीं।


Hothon se muska dijie

Najaren utha ke jhuka lijie ham samajh jayenge aapka pyar.
N kuchh bol paye to hothon se muska dijie ham samajh jayenge aapka ejhar.

नजरें उठा के झुका लीजिए हम समझ जायेंगे आपका प्यार।
न कुछ बोल पाये तो होठों से मुस्का दीजिए हम समझ जायेंगे आपका इजहार।।

…Read More Shayari

नमस्कार मै हूँ Binod Singh, Hishayari.com मै आपका बहुत - बहुत स्वागत है। मै Author & Co-Founder हूँ। पेशे से Blogger और YouTuber हूँ, आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं Shayari, Status, Quotes, Sms उपलब्ध करवाते रहेंगे और site को Bookmark कर ले।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CATEGORY

close