Best Rose Day Shayari | Rose Shayari In Hindi | Rose Shayari In English.

Rate this post

 Rose Shayari

Gulab fool kyon khilta hai

Aakhir ek gulab fool kyon khilta hai.
Taki koi fool wala tod ke le jaye.

आखिर एक गुलाब फूल क्यों खिलता है।
ताकि कोई फूल वाला तोड़ के ले जाये। 

 

 

Fool ko gulab kahte hai

Chaman ke fool ko gulab kahte hai.
Ham hi nahi sabhi tujhe lajawab kahte hai.

चमन के फूल को गुलाब कहते है।
हम ही नहीं सभी तुझे लाजवाब कहते है।
 

Har ek fool ko bauron ki jaroorat

 Har ek fool ko bauron ki jaroorat hoti hai.
Har ek laila ko majnun ki jaroorat hoti hai.

हर एक फूल को भैरों की जरूरत होती है।
हर एक लैला को मजनूं की जरूरत होती है। 

 

Gulab se bhi achha kachnar ho

Bulbul nahi gori yaar ho tum.
Gulab se bhi achha kachnar ho tum.

बुलबुल नहीं गोरी यार हो तुम।  
गुलाब से भी अच्छा कचनार हो तुम। 

 

 
Gulab kaho ya tum kachnar kaho

 Gulab kaho ya tum kachnar kaho.
Janjir kaho ya gale ka haar kaho.

गुलाब कहो या तुम कचनार कहो।  
जंजीर कहो या गले का हार कहो।  

 

…Read More Shayari

नमस्कार मै हूँ Binod Singh, Hishayari.com मै आपका बहुत - बहुत स्वागत है। मै Author & Co-Founder हूँ। पेशे से Blogger और YouTuber हूँ, आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं Shayari, Status, Quotes, Sms उपलब्ध करवाते रहेंगे और site को Bookmark कर ले।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CATEGORY

close