New Genyoutube Download Photo Shayari – Hishayari.com

2.7/5 - (6 votes)

Aaj kal Genyoutube Download Photo shayari kafi popular hai to aap logon ke liye pyar, mohabbat se bhari shayari ko pesh kiye kiye hai. agar is tarah ki shayari, status padna chahte hai to homr page par jayen, aur share, comment jaroor karen…

New Genyoutube Download Photo

Apni Aakhon Ke Samandar Mein Utar Jaane De.
Tera Mujrim Hu Mujhe Doob Kar Mar Jaane De.

अपनी आखों के समंदर में उतार जाने दे,
तेरा मुजरिम हूँ मुझे डूब कर मर जाने दे।

 

Meri Nazar Mein To Ab Sab Barabar Hai.
Mere Liye To Tu He Hai Kaashi Tu Hee Madeena Bhi.

मेरी नज़र में तो अब सब बराबर है,
मेरे लिए तो तू हे है काशी तू ही मदीना भी।

Shayari photo download free

Maine khud ko khoya hai pahle tujhe khone se.
Isliye mujhe farak padta hai kareeb tere hone se na hone se.

मैने खुद को खोया है पहले तुझे खोने से।
इसलिये मुझे फर्क पड़ता है करीब तेरे होने से ना होने से।

 

Koi na koi Prem kahani sab ki hoti hai.
Bas puri ho ya nahi ye marji rab ki hoti hai.

कोई ना कोई प्रेम कहानी सब की होती हैं।
बस पूरी हो या नही ये मर्जी रब की होती है।

whatsapp shayari photo download

Tere He Kadamo Mein Marna Bhi Aur Jeena Bhi.
Ki Tera Pyar Hai Dariya Bhi Aur Safeena Bhi.

तेरी हे कदमो में मरना भी और जीना भी,
की तेरा प्यार है दरिया भी और सफीना भी।

New Genyoutube Download Photo

Pass rani nahi hai to kya huaa,

Raj jo aaj bhi ham lakhon ke dilon par karte hai.

पास रानी नहीं है तो क्या हुआ,
राज जो आज भी हम लाखों के दिलों पर करते है।

Shayari photo download pagalworld

Zindegi sanwarne kon to zindegi padi hai.

Chalo wo lamha sawarte hai jahan zindegi khadi hai.

जिंदगी संवारने कों तो ज़िंदगी पड़ी है,
चलो वो लम्हा सवारते है जहां ज़िंदगी खड़ी है।

 

Jab se pata chala hai log fayda uthate hai bharose ka.
Humne karna hi chorr diya hai.

जब से पता चला है लोग फायदा उठाते है भरोसे का।
हमने करना ही छोड़ दिया है।

Download shayari video

Main kaise bhulaun usko.
Wo shakhs dil ko sukoon deta hai.

मैं कैसे भुलाऊ उसको।
वो शक़्स दिल को सुकून देता है।

 

Jakhm Kitne Teri Chahat Se Mile Hain Mujhko.
Sochta Hoon Kahu, Phir Sochta Hu Ki Chhod Jaane De.

जख्म कितने तेरी चाहत से मिले हैं मुझको
सोचता हूँ कहू फिर सोचता हु की छोड़ जाने दे।

 

…Read More Shayari

 
नमस्कार मै हूँ Binod Singh, Hishayari.com मै आपका बहुत - बहुत स्वागत है। मै Author & Co-Founder हूँ। पेशे से Blogger और YouTuber हूँ, आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं Shayari, Status, Quotes, Sms उपलब्ध करवाते रहेंगे और site को Bookmark कर ले।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CATEGORY

close